Wed. May 29th, 2024

चतरा सीट पर बीजेपी के सामने अपना ही प्रदर्शन दोहराने की चुनौती

चतरा।

पिछले दो लोकसभा चुनाव से चतरा संसदीय सीट बीजेपी के पास है। बीजेपी के वर्तमान सांसद सुनील कुमार सिंह ने 2014 में और फिर 2019 में लगातार जीत दर्ज किया है। 2019 के लोकसभा चुनाव में सुनील सिंह को 57.03 % मत प्राप्त हुआ था। उन्हें 5,28077 मत प्राप्त हुए थे। इस चुनाव में पहले और दूसरे स्थान पर रहने वाली पार्टी के वोट के प्रतिशत में सबसे अधिक अंतर चतरा सीट पर ही देखने को मिला था। यहाँ बीजेपी को 57.03 % जबकि कांग्रेस प्रत्याशी को 16.22 % जबकि राजद के उम्मीदवार को 9% वोट प्राप्त हुआ था। बीजेपी और कांग्रेस के प्रत्याशी के बीच वोट प्रतिशत का अन्तर तीन गुणा से अधिक रहा था।

लोक सभा चुनाव 2024 की घोषणा के साथ ही बीजेपी ने रणनीतिक बढ़त हासिल करने की रणनीति पर कार्य करते हुए अपने पहली लिस्ट में ही 11 सांसदों के नाम घोषित कर किया। फिर चतरा और धनबाद की होल्ड पर रखी गयी दोनों सीटों पर प्रत्यशी के नाम की घोषणा की हुई। चतरा सीट से बीजेपी ने पहली बार स्थानीय उम्मीदवार को मौका देने का फैसला किया। दो बार के सांसद सुनील सिंह का टिकट काटकर स्थानीय काली चरण सिंह को मौका दिया गया । काली सिंह बीजेपी के अनुभवी नेता हैं और वर्तमान में प्रदेश उपाध्यक्ष भी हैं। उन्हें पार्टी और संगठन में काम करने का लंबा अनुभव है।

स्थानीय को प्रत्याशी बनाकर बीजेपी ने एक साथ तीन मोर्चों पर बढ़त हासिल करने का कार्य किया है। पहला संसदीय क्षेत्र कि एक पुरानी मांग पूरी करने का, दूसरा विपक्षी दलों के द्वारा इसे चुनावी मुद्दा बनाए जाने से रोकने में सफल होना और तीसरा विपक्षी दलों के गठबंधन प्रत्याशी के नाम की घोषणा से पहले सीट पर कैंडिडेट के नाम की घोषणा करते प्रत्याशी को जनता के बीच जाने का अधिक समय देने का मौका देने का कार्य। वहीं विपक्षी दल अभी भी इस सीट पर प्रत्यशी का चयन नहीं कर पा रहे हैं।

भारत निर्वाचन आयोग के द्वारा घोषित तारीखों के तहत चतरा सीट पर चुनाव 5वें चरण में होगा।26 अप्रैल से अधिसूचना जारी होगी और 20 मई को मतदान होगा। इस लोक सभा चुनाव में बजेपी प्रत्याशी के सामने सबसे बढ़ी चुनौती 2019 के चुनाव में बीजेपी के प्रदर्शन को दुहराने और सांसद सुनील सिंह के 57% के वोट शेयर को बरकार रखने की होगी।2019 के लोक सभा चुनाव में राज्य की चार सीटों पर बीजेपी को 60% मत मिले थे। वहीँ 2014 में बीजेपी ने चतरा में 41.08 % और फिर 2019 के चुनाव में 57 % से अधिक मत प्राप्त किया था। मतों का यह प्रतिशत चतरा लोक सभा सीट के इतिहास में अब तक की सबसे बड़ी जीत के तौर पर दर्ज है। बीजेपी प्रत्याशी को प्राप्त मतों का प्रतिशत एक रिकॉर्ड है जो अब तक चतरा सीट पर दर्ज करने वाले सभी प्रत्याशियों में सबसे ज्यादा है।

+ posts

Related Post

error: Content is protected !!