Sun. Jun 23rd, 2024

रामगढ़ में नागरिक संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में उमड़ा जनसैलाब,

By Rashtra Samarpan Jan 9, 2020

रामगढ़। राष्ट्रीय जन जागरण मंच के तत्वावधान में
गुरुवार को रामगढ़ शहर में नागरिक संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में जनसैलाब उमड़
पड़ा। गोला रोड के बाजार टांड स्थित सिद्धू-कान्हू जिला मैदान से राष्ट्रीय तिरंगा
व भगवा झंडा के साथ निकले जुलूस में जिले भर के 10 हजार से अधिक महिला
, पुरूष व युवा शामिल थे। दो किमी से भी अधिक लंबे जुलूस में
सीएए के समर्थन में लोग जमकर नारेबाजी की। भारत माता की जय व वंदे मातरम से पूरा
शहर गुंजयमान हो गया। शहर की सड़कों पर निकली यह ऐतिहासिक रैली रही । स्थानीय
लोगों के अनुसार इससे पूर्व शायद ही शहर के लोगों ने ऐसी रैली देखी होगी। शहर के
सभी प्रमुख चौक चौराहे घंटों भगवा रंग के झंडों से पटे रहे। इस जागरूकता रैली में
रामगढ़ जिले के चितरपुर
,
गोला, पतरातू, भुरकुंडा, दुलमी मांडू, कुज्जू, घाटो बरकाकाना आदि स्थानों से हजारों की संख्या में
लोगों ने भगवा ध्वज और तिरंगा के साथ इस रैली के समर्थन के लिए पहुंचे।
भारतीय संसद द्वारा पारित नागरिकता संशोधन कानून के
समर्थन में लोगों ने जमकर नारे लगाए। रैली में शामिल लोगों ने कहा केंद्र सरकार
द्वारा लाया गया यह कानून देश हित में है
, जो लोग भारत में
बिना किसी वैध दस्तावेज के रह रहे हैं
, वह देश के विधि
व्यवस्था के लिए खतरा बने हुए हैं।
इस कार्यक्रम के संयोजक और राष्ट्रीय जन जागरण मंच
के अध्यक्ष वेद प्रकाश ने कहा कि नागरिक संशोधन कानून और एनआरसी दोनों दो चीजें
हैं लेकिन लोगों को यह बताया जा रहा है कि दोनों एक ही चीजें हैं । उन्हें इस भ्रम
में भी रखा जा रहा है कि इसमें खास करके मुसलमान समुदाय को इस देश से बाहर कर दिया
जाएगा जिसके वजह से पूरे देश में अफरा तफरी मच गई है । इसी बातों को लेकर यह जन
जागरूकता रैली निकाली गई है ताकि लोगों के बीच के भ्रम को दूर किया जा सके।


रैली को मिला सभी राजनीतिक और गैर राजनीतिक संगठनों
का सहयोग
इस जागरूकता रैली के लिए पिछले कई दिनों से लोगों
से संपर्क किया जा रहा था जिसमें इस कार्यक्रम के लिए मुख्य रूप से रामनवमी
महासमिति के अध्यक्ष राजेश ठाकुर
, भाजपा नेता कुंटू बाबु, रंजन सिंह छोटन पप्पू यादव  , रविन्द्र शर्मा , प्रो संजय सिंह, नीरज सिंह  आजसू नेता व कार्यकर्ता नीरज मंडल धर्मेंद्र साहू
भोपाली लालू शर्मा
,  अन्य संगठनों से शिव कुमार दांगी, रवि मिश्रा सहित रामगढ़ शहर के सभी व्यवसाइ एवं हजारों की संख्या में रामगढ़
की जनता द्वारा भी खुले दिल से इस समर्थन एवं जागरूकता रैली के लिए अपने सोशल
मीडिया से लेकर जन जन तक जाकर लोगों से आग्रह किया गया कि वह सभी इस जागरूकता रैली
में आकर समर्थन करें।


3000  से
अधिक महिलाओं ने लिया इस जन जागरूकता रैली में भाग
इस जागरूकता रैली के अंतर्गत पुरूषों के साथ-साथ
महिलाओं ने भी बढ़-चढ़कर आगे आई। एकल अभियान के द्वारा 1500  से अधिक महिलाएं बनी इस जागरूकता रैली की
भागीदार। महिलाओं की संख्या कुल मिलाकर 3000 से अधिक रही जिसमें ज्ञान महिला समिति
, आजसू महिला मोर्चा सहित अन्य महिला समितियों ने इस
जागरूकता रैली में आकर इस रैली का हिस्सा बनी। महिलाओं को आजसू महिला मोर्चा की
नेत्री अर्चना महतो एवं भाजपा नेत्री मधु गुप्ता ने संचालन किया और इस कानून के
समर्थन में जमकर नारेबाजी की।
इस रैली को समर्थन देने के लिए लोगों ने अपने गाल
एवं माथे पर तिरंगा की टैटू लगाए दिखाई दिए कुछ लोगों ने अलग-अलग नारों के साथ कट
आउट बनाकर दिखाते नजर आए।
शहर के लोगों ने क्या-क्या कहा
चट्टी बाजार स्थित व्यवसाई राधेश्याम अग्रवाल ने
कहा कि रामगढ़ में इस तरह की जागरूकता रैली कभी नहीं देखी गई थी। इस रैली के
निकलने के बाद लोगों में एकता की भावना आती है और समाज में सकारात्मक संदेश जाता
है।
शहर के बेकर्स बॉय के मालिक ने कहा कि  इस तरह की रैली कभी देखी नहीं गई है जहां
शांतिपूर्ण तरीके से लोग प्रदर्शन करें अक्सर इस तरह की रैलियों में उटपटांग नारे
लगाए जाते हैं जो यहां नहीं देखे जा रहे हैं इसलिए हम सभी लोगों का इस रैली को
समर्थन है।
रैली की वजह से जाम में फंसे कुछ लोगों से बातचीत
करने के बाद पूछा गया कि इस तरह की स्थिति में आप लोग जाम में  काफी देर से फंसे हुए हैं आप लोगों को कोई
परेशानी हो रही है या नहीं तो इस बात पर कई लोगों ने कहा कि छोटी-मोटी परेशानियों
की वजह से अगर हम सरकार का साथ नहीं देंगे तो भविष्य में हम लोगों को इससे बड़ी
परेशानी होगी इसलिए इन छोटी मोटी जाम की समस्याओं पर ध्यान नहीं देना चाहिए।



रांची से आए हुए भैरव ने क्या कहा

रांची से आए हुए भैरव ने बताया कि इस कानून के पास
होने के बाद यह एक संविधान बन गया है और इस कानून का विरोध करना संविधान का विरोध
करने के बराबर है और यह रैली विरोध करने वालों के मुंह पर करारा तमाचा है।  उन्होंने आगे कहा कि जो लोग विरोध कर रहे हैं
उन्हें इस कानून की जरा सी भी समझ ही नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि जो भी इस देश
को अपना मानता है वह इस कानून का समर्थन जरूर करेगा।


क्या कहा धर्मेंद्र भोपाली ने


नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के समर्थन की तैयारी को लेकर आजसू नेता एवं समाजसेवी धर्मेंद्र
साव(भोपाली)  की वेशभूषा काफी आकर्षक का
केंद्र रही । धर्मेंद्र साव कि भगवा वेश भूषा और अपने समर्थकों के साथ सिद्धू कानू
मैदान पहुंचकर जागरूकता रैली का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि आज इस जागरूकता रैली
में किसी भी दल या राजनीतिक संगठन के नाते कोई हिस्सा नहीं ले रहा बल्कि एक भारतीय
होने के नाते हर व्यक्ति इस रैली का हिस्सा बनना चाह रहा है और भविष्य में भी भारत
के खिलाफ जब भी कोई आवाज उठेगी इससे भी बड़ी रैली निकाली जाएगी और सरकार के कदम से
कदम मिलाकर हम सभी चलते नजर आएंगे।



क्या कहा चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष विमल बुधिया 

चेंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष एवं शहर के प्रतिष्ठित
व्यवसाई विमल बुधिया ने कहा कि इस तरह की रैली से लोगों में देशभक्ति की भावना का
संचार होता है और लोगों में कानून की सही जानकारी मिल पाती है। इस रैली को देखने
के बाद कोई भी व्यक्ति इस देश की तरफ आंख उठाने की हिम्मत नहीं कर सकता है क्योंकि
संविधान का विरोध करने वालों से ज्यादा ताकतवर संविधान के समर्थन करने वालों का
सदैव रहा है। कुछ चंद लोगों के वजह से पूरे देश को डूबने नहीं दिया जा सकता और हम
लोग हमेशा अपने देश के लिए खड़े नजर आएंगे।



क्या कहा धनंजय कुमार पुटुस ने


रामगढ़ बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक धनंजय कुमार पुटुस ने अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ इस रैली में शामिल हुए साथ ही उन्होंने कहा कि इस रैली में शामिल होना अपने आप में बहुत ही गर्व की बात है इस देश की संप्रभुता और संपन्नता के लिए हम लोग सदैव तैयार हैं और आगे भी रहेंगे।

प्रशासन की व्यवस्था रही चुस्त
रैली को देखते हुए जिला प्रशासन द्वारा रैली मार्ग
के सभी प्रमुख चौक चौराहों पर दंडाधिकारी और पुलिस बल की तैनाती की गई। रैली को
शहर में अपार जनसमर्थन मिला। यह रैली कई मायनों में ऐतिहासिक रही। किसी गैर राजनीतिक
संगठन के द्वारा निकाली गई रैली में पहली बार इतनी बड़ी संख्या में हिस्सा लिया।
रैली में विभिन्न राजनीतिक दलों व संगठनों के नेता व कार्यकर्ता शामिल हुए।
महिलाओं ने भी बड़ी संख्या में रैली में पहुंचकर अपना समर्थन दिया। इतनी बड़ी
संख्या में लोगों के शामिल होने के बावजूद रैली पूरी तरह से शांतिपूर्ण रही। सड़क
से गुजरने वाले राहगीरों और वाहनों को थोड़ी कठिनाई का सामना जरूर करना पड़ा पर
उन्होंने भी जागरूकता रैली को समर्थन देने की बात कही।
रैली के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर अनुमंडल
पदाधिकारी अनंत कुमार
, एसडीपीओ अनुज उरांव व रामगढ़ थाना प्रभारी विपिन
कुमार
, यातायात प्रभारी इंस्पेक्टर राजेश कुमार सदल बल
तैनात रहे। जुलूस शहर का भ्रमण करते हुए अनुमंडल कार्यालय परिसर पहुंचा
, जहाँ झारखंड सरकार के नाम अनुमंडल पदाधिकारी के माध्यम से
एक ज्ञापन देकर इस कानून को झारखंड में भी लागू करने की मांग की गई।

 | Website

राष्ट्र समर्पण एक राष्ट्र हित में समर्पित पत्रकार समूह के द्वारा तैयार किया गया ऑनलाइन न्यूज़ एवं व्यूज पोर्टल है । हमारा प्रयास अपने पाठकों तक हर प्रकार की ख़बरें निष्पक्ष रुप से पहुँचाना है और यह हमारा दायित्व एवं कर्तव्य भी है ।

By Rashtra Samarpan

राष्ट्र समर्पण एक राष्ट्र हित में समर्पित पत्रकार समूह के द्वारा तैयार किया गया ऑनलाइन न्यूज़ एवं व्यूज पोर्टल है । हमारा प्रयास अपने पाठकों तक हर प्रकार की ख़बरें निष्पक्ष रुप से पहुँचाना है और यह हमारा दायित्व एवं कर्तव्य भी है ।

Related Post

error: Content is protected !!