Advertisement

रामगढ़: मस्जिद में नमाज अदा करना पड़ा भारी , मौलाना सहित दर्जनों लोगों पर किया गया केस

कोरोना संक्रमण को देखते हुए जिला प्रशासन रामगढ़ द्वारा बकरीद पर्व के अवसर पर अनिवार्य रूप से सोशल डिस्टेंसिंग सहित कोरोना संक्रमण से बचने हेतु सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइन के पालन से संबंधित विस्तृत निर्देश जारी किए गए थे। इसके अलावा प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों द्वारा जिले के विभिन्न क्षेत्रों में फ्लैग मार्च कर लोगों को पर्व के अवसर पर अनिवार्य रूप से नियमों के पालन करने की जानकारी दी गई थी। लोगों से अनुरोध किया गया था की वे अपने घरों से नमाज अदा करें।

शनिवार को अंजुमन मिल्लतुल मुस्लेमीन मस्जिद, नईसराय रामगढ़ के समीप कुछ लोगों के द्वारा कोरोना से रोकथाम हेतु आवश्यक सोशल डिस्टेंसिंग नहीं रखी गयी साथ ही बिना मास्क लगाकर भीड़ जमा की गई । जिससे जान बूझ कर अपनी व अन्य लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में डालने का कृत्य किया गया।

जिला प्रशासन द्वारा जारी किए गए निर्देशों की अवमानना करने एवं कोविड-19 महामारी के दौरान सामाजिक दूरी का पालन ना करते हुए और लोगों की सुरक्षा खतरे में डालने के आरोप में अंजुमन मिल्लतुल मुस्लेमीन मस्जिद, नईसराय, रामगढ़ के इमाम मौलाना मोजीब, मुअज्जिन, सदर- अब्दुल रजाक अंसारी, सेक्रेटरी जिल्लानी अनवर सहित अन्य 80-85 लोगों के विरुद्ध सुसंगत धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है व आगे की कार्रवाई की जा रही है।

वीडियो में देखिए कैसे मस्जिद में उड़ाया गया सोशल डिस्टेंसिंग का मजाक

 

Website | + posts

राष्ट्र समर्पण एक राष्ट्र हित में समर्पित पत्रकार समूह के द्वारा तैयार किया गया ऑनलाइन न्यूज़ एवं व्यूज पोर्टल है । हमारा प्रयास अपने पाठकों तक हर प्रकार की ख़बरें निष्पक्ष रुप से पहुँचाना है और यह हमारा दायित्व एवं कर्तव्य भी है ।

Advertisment

Advertisement